कोविड-19 संक्रमण के कारण

कोविड-19 संक्रमण इस समय पूरे विश्व को अपने चंगुल में ले चुका है और इससे बचाव के लिए यह जानना जरूरी है कि यह कैसे फैलता है और यह जानने के बाद अपने आप को इस नए और बहुत अधिक संक्रामक वायरस से बचाना आसान हो जाएगा। तो आज हम जानते हैं कि कोविड-19 वायरस कैसे फैल सकता है :

corona virus

कोविड-19 एक बहुत अधिक संक्रामक बीमारी है और इसके फैलने के तरीके सामान्य फ्लू से मिलते-जुलते हैं और कुछ अन्य तरीके खतरनाक वायरसों की तरह ही अलग-अलग रूप में हमको संक्रमित कर सकते हैं, आइये जानते हैं अब तक जाने गए कुछ तरीकों को:

संक्रमित व्यक्ति से संपर्क

contact with infected person

कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति से संपर्क द्वारा इससे संक्रमित होने की संभावना सबसे अधिक होती है। अब तक इस वायरस के बारे में जितना जाना गया है, यह वायरस संक्रमित व्यक्ति के मुँह और नाक से निकले थूक और नाक की छोटी-छोटी बूँदों में उपस्थित होता है। इन बूँदों में उपस्थित वायरस का स्वस्थ व्यक्ति के शरीर में प्रवेश उस व्यक्ति को संक्रमित करने के लिए पर्याप्त है।

संक्रमित सतह या वस्तु से संपर्क

infected surfaces

यदि किसी संक्रमित व्यक्ति द्वारा किसी सतह या वस्तु का संपर्क हुआ है तो संभव है कि उस सतह या वस्तु पर वायरस का संक्रमण हो गया हो। नए नए शोधों से यह पता लगा है कि यह वायरस कुछ घंटों से लेकर कई दिनों तक संक्रमित सतह या वस्तु पर ऐसी स्थिति में रह सकता है कि इसके संपर्क में आने वाले स्वस्थ व्यक्ति को संक्रमित कर सके। ऐसी सतह या वस्तु के संपर्क में आने वाले स्वस्थ व्यक्ति के हाथों या शरीर के किसी भाग पर वायरस पहुँच सकते हैं, और इन्हीं संक्रमित हाथों या शरीर के भाग को बिना साफ किए अपने नाक, मुँह, आँखों को छूने पर संक्रमण का खतरा हो सकता है।

संक्रमित वातावरण

नए शोध के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन इस बात पर सहमत हो गया है कि कोविड-19 वायरस संक्रमित हवा से भी फैल सकता है। इस बात का मतलब यह है कि किसी संक्रमित व्यक्ति द्वारा किसी जगह पर छोड़े गए वायरस वहाँ की हवा में भी लंबे समय तक रह सकते हैं और इस संक्रमित हवा के संपर्क से भी कोविड-19 होने की पूति संभावना है।

संक्रमित गर्भवती माँ से अजन्मे बच्चे को

अभी तक इस बात को सिद्ध करने वाला कोई आंकड़ा या दर्ज मामले नहीं थे जिनसे यह कहा जा सकता कि कोई गर्भवती माँ अपने अजन्मे बच्चे को कोविड-19 का संक्रमण पहुँचा सकती है पर अभी हाल में ही भारत के दिल्ली और मुम्बई में दो ऐसे मामले आये हैं। इन दोनों मामलों में गर्भवती महिलायें कोविड-19 से संक्रमित थीं और बच्चों के जन्म के बाद यह पाया गया कि इन माँओं ने अपने बच्चों को गर्भनाल के जरिये कोविड-19 का संक्रमण पहुँचाया था, पर अभी इसपर और शोध की आवश्यकता है।

      अगले पोस्ट में हम कोविड-19 से बचाव पर चर्चा करेंगे।

Digiprove sealCopyright protected by Digiprove © 2020 Pinki Chauhan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_bye.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_good.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_negative.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_scratch.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_wacko.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_yahoo.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_cool.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_rose.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_smile.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_whistle3.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_mail.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_cry.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_sad.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_unsure.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_wink.gif 
http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_heart.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_yes.gif