पैराबीन(Paraben)- स्वास्थ्य(health) और सौंदर्य(beauty) का दुश्मन

वैसे तो हम अपने चारों तरफ की घटनाओं पर बहुत ध्यान देते हैं फिर भी कई ऐसी बातें हैं जिन्हें हम रोज़मर्रा की ज़िंदगी में जाने-अनजाने अनदेखा करते हैं।

भारत में खाने की वस्तुओं की सामग्री पर ध्यान देने का प्रचलन समय के साथ बढ़ा है लेकिन देखने में आता है कि मेकअप और कॉस्मेटिक्स खरीदते समय हम उनकी सामग्री पर ध्यान नहीं देते और खतरनाक कैमिकल्स से भरे उत्पाद(products) का आँखें बंद करके इस्तेमाल करते हैं बिना ये सोचे कि इनका हमारे स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव होगा। आज हम इस पर ही बात करेंगे। कई कैमिकल्स के हमारे स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव हो सकते हैं जिनमें से एक है – पैराबीन(Parabens) – सबसे ज्यादा विवादास्पद।

पैराबीन एक सवाल
1. पैराबीन एक सवाल

पैराबीन(Parabens) क्या हैं?

पैराबीन ऐसे केमिकल्स हैं जिनके मिश्रण का इस्तेमाल करके कॉस्मेटिक्स(cosmetics) तथा कुछ खाने की वस्तुओं और दवाइयों(medicines) की उम्र(shelf life) को बढ़ाया जाता है। ये बैक्टीरिया(bacteria) और फंगस(fungus) को पनपने से रोकने वाले प्रिजरवेटिव(preservative)हैं और एक सस्ता विकल्प हैं।

पैराबीन(Parabens) कहाँ उपयोग होते हैं?

पैराबीन का उपयोग मॉइश्चराइजर(moisturiser), शैम्पू(shampoo), कंडीशनर(conditioner), लोशन्स(lotions), क्रीम्स(creams), दवाइयों(medicines), ब्लश(blush), फ़ाउंडेशन(foundation), आदि में इनकी शेल्फ लाइफ बढ़ाने को किया जाता है। इनका इस्तेमाल कुछ आयुर्वेदिक दवाइयों में भी किया जाता है।

एक आयुर्वेदिक दवाई में parabens
2. एक आयुर्वेदिक दवाई में parabens

पैराबीन(Parabens) के प्रभाव

कई रिसर्च से यह सामने आया है कि पैराबीन के अंश ब्रेस्ट कैंसर के टिश्यु में पाये गए हैं। इसलिए ब्रेस्ट कैंसर और पैराबीन के संबंध पर रिसर्च की जा रही हैं। मिथाइल पैराबीन(mithyl paraben) त्वचा को सूर्य की रोशनी के प्रति संवेदनशील बनाते हैं जिससे त्वचा पर एलर्जी, खुजली जैसी समस्याएँ देखने को मिलती हैं और समय से पहले ही त्वचा पर झुर्रियाँ पड़ सकती हैं। ऐसे उत्पाद(products) जिनमें पैराबीन होते हैं वो डर्मेटाइटिस(dermatitis) जैसी त्वचा की बीमारी का कारण बन सकते हैं।

लेबल(label) पर क्या देखें?

किसी भी कौस्मेटिक(cosmetics) और मेकअप उत्पाद (makeup product) या फिर दवाई को खरीदने से पहले उसके लेबल पर देखें-

मिथाइल पैराबीन(mithyl parabens), प्रोपाइल पैराबीन(propyle paraben), ब्यूटाइल पैराबीन(butyle paraben), इथाइल पैराबीन(ethyl paraben) और पैराबीन(paraben) पर खत्म होने वाले नाम। आजकल कई ब्राण्ड्स पैराबीन फ्री(paraben free) प्रॉडक्ट बनाने लगे हैं इसलिए कोई भी सामान खरीदते समय पैराबीन फ्री लिखा हुआ जरूर देखें अथवा पैराबीन इंग्रेडिएंट्स में न हों। डेनमार्क ने बच्चों के प्रोडक्ट्स में parabens के इस्तेमाल पर पूरी तरह से बैन लगाया हुआ है। वहीं कई देशों में यह चर्चा का विषय बना हुआ है कि थोड़ी मात्रा में इनका इस्तेमाल किया जा सकता है या नहीं? फिर भी ब्रेस्ट कैंसर और त्वचा से संबन्धित बीमारियों से संबंध पाये जाने के कारण हमें सावधानी बरतनी जरूरी है। वैसे भी कहते हैं – इलाज़ से बचाव बेहतर है।

इलाज़ से बचाव बेहतर
3. इलाज़ से बचाव बेहतर

 

IMAGE SOURCE: 1 3

 

4 thoughts on “पैराबीन(Paraben)- स्वास्थ्य(health) और सौंदर्य(beauty) का दुश्मन”

  1. I’m not trying to argue.. however are you sure with reference to this? It maybe a bit overdone and I’m concerned for you :/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_bye.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_good.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_negative.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_scratch.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_wacko.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_yahoo.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_cool.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_rose.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_smile.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_whistle3.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_mail.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_cry.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_sad.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_unsure.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_wink.gif 
http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_heart.gif  http://bsdblog.in/wp-content/plugins/wp-monalisa/icons/wpml_yes.gif