कोरोना क्या है?

दुनिया में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। हर कोई अपनी जान बचाने के लिए सभी संभव उपाय कर रहा है पर अगर उन सभी उपायों के साथ लोगों को सही जानकारी मिल जाये तो खुद को कोरोना से बचाना और स्वस्थ रहना काफी आसान हो जाएगा। इसीलिए मैं आज से आपको कोरोना के बारे में कुछ जानकारी देने की कोशिश करूँगा। आज हम अपनी इस कोरोना सीरीज़ की शुरुआत कोरोना क्या है, इसी प्रश्न से शुरू करते हैं।

कोरोना क्या है?

हम दैनिक बोलचाल में जिस बीमारी को कोरोना के नाम से जानते हैं उसका सही नाम कोविड-19 है। पहले यह जानने से शुरू करते हैं की इस बीमारी को कोरोना क्यूँ कहा जाने लगा है, जबकि इसका नाम तो कोविड-19 है। इस बीमारी को फैलाने वाला वायरस कोरोना वायरस परिवार का ही एक भाग है , इसी कोरोना वायरस परिवार में यदि एक वायरस साधारण जुकाम का कारण बनता है तो कुछ वायरस खतरनाक और जानलेवा MERS-Cov और SARS-Cov का कारण बनते हैं। कोविड-19 बीमारी फैलाने वाला यह वायरस एक नयी तरह का वायरस है जिसे नॉवल कोरोना वायरस (nCOV) स्ट्रेन के नाम से भी जाना जाता है।

किसी भी नए वायरस का नामकरण एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन ICTV(International Committee on Taxanomy of Viruses) के द्वारा किया जाता है। ICTV ने इस वायरस का नाम SARS-CoV-2 11 फ़रवरी 2020 को रखा। इस वायरस का यह नाम इसलिए रखा गया क्यूंकी यह वायरस उसी कोरोना वायरस परिवार से आनुवांशिक रूप से जुड़ा हुआ था जिसके कारण 2003 में SARS नामक बीमारी फैली थी। यह वायरस आपस में जुड़े हुए होते भी एक दूसरे से बिलकुल अलग हैं।

ICTV के इस वायरस को नाम देने के बाद 11 फरवरी 2020 को WHO ने इस वायरस से फैलने वाली बीमारी का नाम COVID-19 रखा। 2003 में SARS वायरस ने एशिया में कहर बरपाया था जिसके कारण इसके नाम SARS-CoV-2 को इस्तेमाल करने से इस क्षेत्र और विश्व में अनचाहा डर ना फैले इसलिए WHO ने इस वायरस को COVID-19 वायरस या COVID-19 बीमारी के लिए उत्तरदायी वायरस के नाम से प्रचारित किया।

कोविड-19 कहां से आया ?

माना  यह जाता है कि कोविड-19 चाइना के वुहान शहर से आया। कहा जाता  है कि कोरोना वायरस एक ऐसा वायरस है जो कि किसी जानवर से इंसान के अंदर पहुंचता है इस तरह के वायरस को पशुजनित (Zoonotic) वायरस कहा जाता है। कोविड-19 वायरस के बारे में यह माना जाता है कि है या तो यह चमगादड़ (Bat) से अथवा एक पैंगोलिन (Pangolin) नामक जीव से इंसान के अंदर पहुंचा।

कई देशों को इस बात का भी अंदेशा है कि चीन ने अपने आप को सुपर पावर बनाने के लिए इस वायरस को जानबूझकर विभिन्न देशों के अंदर फैलाने के लिए साजिश रची है। अभी सभी देश इस बात को लेकर सहमत हैं कि कोरोना वायरस कोविड-19 की शुरुआत चीन से ही हुई है और यह वायरस वुहान की वैट मार्केट से पूरी दुनिया में फैला।

 कोविड-19 के लक्षण क्या हैं?

 कोविड-19 के लक्षणों में जो सबसे पहले पाए गए वह बुखार, खांसी, जुखाम, सांस फूलना, सांस लेने में दिक्कत होना और बहुत ज्यादा गंभीर मामलों में  इसके अंदर निमोनिया जैसे लक्षणों को पाया गया है। कुछ गंभीर मरीजों के अंदर किडनी फेलियर और मौत भी हुई हैं। आप लोग भारतीय सौंदर्य दर्पण के साथ बने रहिए  जिसके द्वारा आपको कोविड-19 से संबंधित और सूचनाएँ और इससे लड़ने के लिए टिप्स भी दिये जाएँगे।

Digiprove sealCopyright protected by Digiprove © 2020 Pinki Chauhan
Acknowledgements: Photos are from Pixabay.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *